सामाजिक सुरक्षा पेंशनधारी संघ की ओर से मासिक पेंशन बढ़ाने हेतु पेंशनधारियों का हल्ला बोल

बुधवार को गरीब जनता पार्टी लोकतांत्रिक एवं सामाजिक सुरक्षा पेंशन धारी संघ की ओर से वृद्धा/विधवा/दिव्यांगों को बिहार में 2500 रुपया मासिक पेंशन एवं 5 लाख रुपए का स्वास्थ कार्ड देने की मांग को लेकर मुजफ्फरपुर जिलाधिकारी के समक्ष पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार परिवर्तकारी के नेतृत्व में हज़ारों पेंशनधारियों के साथ प्रदर्शन किया गया।

जिसे सम्बोधित करते हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विकास कृष्ण ने कहा कि बिहार वृद्धा/विधवा/दिव्यांगों को मात्र चार सौ रुपया पेंशन दिया जाता है जिसकी वजह से बिहार के पेंशन धारी भुखमरी के कगार पर पहुंच गए है, जबकि दूसरे राज्यों में पच्चीस सौ से तीन हज़ार तक पेंशन दिया जाता है साथ ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विजय कुमार परिवर्तकारी ने कहा कि बिहार की सरकार जो 13 रुपया प्रतिदिन पेंशन देती है उसमें बुखार की एक खुराक दवा और दो कप चाय एवं दो बिस्कुट भी नसीब नही होगा साथ ही बिहार के पेंशनधारियों के साथ महागठबंधन की सरकार छलावा कर रही है क्योंकि 2020 के चुनावी घोषणा पत्र में उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव जी ने घोषणा किया था कि मेरी सरकार बनी तो पेंशन चार सौ से बढ़ा कर एक हज़ार रुपया कर देंगे जिसकी वजह से बिहार की सबसे बड़ी पार्टी राजद बनी लेकिन सरकार बने कई महीने गुजर गए इसके बावजूद आज तक इस पर कोई विचार नही किया गया साथ ही पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष दीनबन्धु क्रांतिकारी ने कहा कि बिहार में पेंशन धारी अगर बीमार पर जाए तो उनका जीवन जीते जी नर्क के समान हो जाता इसलिए उनके बेहतर इलाज हेतु पांच लाख रुपए का स्वास्थ कार्ड सरकार दे साथ ही बिहार सरकार द्वारा मात्र चार सौ रुपए देने के क्रूर रवैये के कारण पेंशनधारि प्रतिदिन कलपते है जिसका हाय सत्ता में बैठे हुक्मरानों को लगना तय है, क्योंकि जो आज सत्ता का मलाई खा रहे है क्या उनके माता-पिता चार सौ रुपये में अपना गुजर-बसर कर सकते है, आज का प्रदर्शन सिर्फ चेतावनी है अगर पेंशनधारियों की मांग पर अविलंब विचार नही किया गया तो पार्टी पूरे बिहार के जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन के साथ पेंशनधारियों से वोट लेकर उनकी बात सदन में नही उठाने वाले विधायकों एवं सांसदों के आवास का घेराव पेंशनधारियों करेंगे और जरूरत पड़ा तो पटना में भी प्रदर्शन से पीछे नही हटेंगे साथ ही मुखिया संघ के जिलाध्यक्ष इंद्रभूषण सिंह ने कहा कि कई ऐसे भी पेंशन धारी है जिनका पैसा निकालने के समय अंगूठा या आंख पुतली काम नही करता है उन्हें पंचायत के जनप्रतिनिधियों के स्वीकृति के उपरांत निकालने की अनुमती मिले एवं सभी पंचायतों में नए नाम जोड़ने एवं त्रुटि को सुधारने हेतु कैम्प लगाया जाए,प्रदर्शन के उपरांत जिलाधिकारी के माध्यम से 4 सूत्री मांग पत्र मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री को भेजा गया।

मौके पर मुखिया जितेंद्र भगत,कृष्णा राम,नूरजहां खातून,अजय ठाकुर, इंदल दास,पूर्व औराई उप प्रमुख विजय सिंह,दीपक कुमार सिंह, उमा शंकर यादव,रामाधार साह,धीरज पाठक,अमलेंदु कुमार उर्फ मुन्ना,ध्यानी भंडारी,मंगलानंद सिंह,अभिषेक ठाकुर,सद्दाम हुसैन,मुकेश श्रीवास्तव एवं हज़ारों लोग उपस्थित थे,

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?