अपनी कार्यशैली से सुर्खियों में आया मुजफ्फरपुर सदर अस्पताल, मरीज के बेड से पहले ढोया कचड़ा और अब दवाईयां

मुजफ्फरपुर जिले के सदर अस्पताल लगातार अपनी कार्यशैली को लेकर सुर्खियों में है। मरीजों के बेड से कचरा उठाया गया था जिसके लेकर सिविल सर्जन ने कार्रवाई भी की थी। इसी बीच सदर अस्पताल का ही एक और अब वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल होने लगा है जिसको लेकर अस्पताल प्रबंधन पर सवाल उठने लगा है।।

दरअसल सदर अस्पताल में स्ट्रेचर पर दवाइयों की गठरी ढोने का भी वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। सबसे बड़ी बात ये दवाइयां सफाईकर्मी द्वारा स्ट्रेचर पर ढोया जा रहा है और इस वीडियो के सामने आने के बाद जिला स्वास्थ्य विभाग हरकत में आया है सिविल सर्जन ने मामले को लेकर जांच करने की बात कही है।सिविल सर्जन डॉ उमेशचंद्र शर्मा ने वायरल वीडियो को लेकर कहा कि मामले की जांच कर रहें हैं,दोषियों पर कार्रवाई करेंगे और उन्होंने इससे पहले हुए बेड से कचरा और ढोने के मामले पर भी जांच की प्रक्रिया चलने की बात कही है।

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही सदर अस्पताल का ही एक वही वीडियो सामने आया था तो जिसमे मरीज के इलाज के लिए इस्तेमाल किये जाने वाले चक्के वाले बेड को ठेला के रूप में उपयोग कर मेडिकल कचड़ा ढोया गया था तो यह वीडियो स्पल मीडिया पर जब वायरल हुआ तो स्वास्थ्य विभाग ने जांच की बात कही अभी जांच रिपोर्ट आई भी नहीं कि एक और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी है।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?