बाल विवाह की भेंट चढ़ती बच्ची को भाई न बचाया, मां के खिलाफ शिकायत दर्ज

बाल विवाह एक ऐसा अपराध हैं जो एक साथ कई लोगों की जिंदगी बर्बाद करता हैं, मासूम बच्चों की मासूमियत छीन लेता हैं और उन्हें एक ऐसी जिंदगी समर्पित करता हैं जिससे उनका भविष्य और वर्तमान दोनों खराब हो जाए।

मुजफ्फरपुर जिले के औराई‌ थाना क्षेत्र के जगतपुर गांव में बुधवार को बाल विवाह होने की भनक पर स्थानीय प्रशासन ने सजगता दिखाते हुए उसे रुकवा दिया जानकारी के अनुसार बिशनपुर गोकुल पंचायत के जगतपुर गांव के फकीरा राय के नाबालिग 11 वर्षीय पुत्री खुशबू कुमारी की बारात गुरुवार को औराई थाना क्षेत्र के चैनपुर गांव  से आनी थी. खुशबू का विवाह राकेश राय के 16 वर्षीय पुत्र मुकेश राय के साथ गुपचुप तरीके से तय थी, बुधवार को पूजा मटकोर था वहीं शुक्रवार को बाजे गाजे के साथ बारात आनी थी। शादी कर लो लेकर रिश्तेदार सभी आए थे। लेकिन सगे भाई को इसकी सूचना नहीं दी गई। और कल बारात जाने वाली है। मामले की पुरी जानकारी प्रशासन को जानकारी दी गई। जिस पर प्रशासन ने सजगता दिखाते हुए दल बल के साथ पहुंचकर विवाह को रुकवा दिया। लड़की पक्ष के घर स्थानीय बीडीओ महेश्वर पंडित पहुंच कर बाल विवाह न करने का शपथ दिलाकर बंध पत्र बनवाया। वहीं लडका पक्ष के लोगों को भी कानून की जानकारी देकर नसीहत दी. बीडीओ ने जानकारी देते हुए बताया कि बाल विवाह न हो इसकी निगरानी के लिए स्थानीय वार्ड सदस्य दिनेश दास व चौकीदार राकेश पासवान को जिम्मेदारी देने के साथ ही सहमति पत्र भी बना लिया गया है।

 

 

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?