दरभंगा जेल में कैदी सिख रहे योग प्राणायाम और सुदर्शन क्रिया 

दरभंगा जेल में कैदी सिख रहे योग प्राणायाम और सुदर्शन  लोग बीमार पड़ते हैं तो हम उन्हें अस्पताल ले जाते हैं पर जब गुस्सा तनाव या गलत आचरण करते हैं तो उन्हें जेल ले आते हैं पर अस्पताल में तो उनका हम दवाई सुई से इलाज करते हैं लेकिन जेल में हम उनका गलत आचरण गुस्सा तनाव के लिए कोई इलाज कर नहीं पाते “आर्ट ऑफ लिविंग” संस्था इसी उद्देश्य से पूरे दुनिया में प्रिजन स्मार्ट कोर्स का संचालन करती है जेल में बंद बंदियों के व्यवहार विचार और जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने के उद्देश्य से दरभंगा के मंडल कारा में एक सप्ताह का प्रिजन स्मार्ट कोर्स का आयोजन किया गया है जिसमें 140 से अधिक बंदियों ने योग प्राणायाम ध्यान और विश्व प्रसिद्ध “सुदर्शन” क्रिया सीख रहे सभी बंदी भाइयों ने नशा मुक्त होने का संकल्प लिया दरभंगा मंडल कारा के अधीक्षक स्नेहलता जी सहायक अधीक्षक फरहत ,सुमित, के देखरेख मे जेल में शिविर का संचालन आर्ट ऑफ लिविंग के बैंगलोर आश्रम के तरफ से प्रशिक्षक योगचार्य श्री दिलीप शुक्ला के नेतृत्व में किया जा रहा योग प्रशिक्षक योगचार्य श्री दिलीप शुक्ला ने बताया कि यह शिविर कैदियों को तनाव दूर करने तथा गुस्सा कम करने और गहरी नींद के लिए सहायक होता है कैदी अपराध की प्रवृतियां छोड़कर जीवन में सकारात्मक सोच के साथ जीवन जीने की दिशा में आगे बढ़ते हैं इस शिविर के संचालन में दरभंगा जेल प्रशाशन का पूर्ण रुप से सहयोग दी जा रही है जिसके कारण यह संभव हो पा रहा.

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?