रोटरी क्लब ऑफ मुजफ्फरपुर अंजुमन के आठवें पदभार ग्रहण समारोह का हुआ आयोजन

रोटरी क्लब आफ मुजफ्फरपुर अंजुमन के आठवें पदभार ग्रहण समारोह का आयोजन रामदयालु स्थित चंद्र विला फार्म हाउस में हुआ। नए सत्र 23-24 के लिए रोटेरियन पंकज कुमार को अध्यक्ष और रोटेरियन नितेश कुमार को सेक्रेटरी चुना गया। पूर्व अध्यक्ष रोटेरियन राजवर्धन में नए अध्यक्ष रोटेरियन पंकज कुमार को कॉलर पहना कर पदभार सौंपा। पिछले सत्र के सचिव नितेश कुमार को नए सत्र में सचिव बनाया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में आईपीडीजी संजीव कुमार ठाकुर, विशिष्ट अतिथि के रूप में एडीजी राजन गंडोत्रा, एवं एडीजी संदीप नारंग उपस्थित हुए। समारोह में पास्ट प्रेसिडेंट डॉक्टर नवीन कुमार ने स्वागत भाषण किया। प्रेसिडेंट इलेक्ट रोटेरियन शबनम कुमारी , एचएन भारद्वाज, डॉ पल्लवी सिन्हा, डॉ विभा वर्मा, रागिनी रानी, अनु नारायण, हेमलता रीति, फर्स्ट लेडी प्रिया प्रियम, अनय राज, भावना, रोटेरियन सुधीर कुमार, अभिषेक ओझा

समेत सैकड़ों लोग शामिल हुए। समारोह का संचालन रोटेरियन रंजीता कुमारी ने किया।

इस मौके पर नए प्रेसिडेंट पंकज कुमार ने अगले 1 साल के कार्यक्रमों का लेखा-जोखा प्रस्तुत किया। उन्होंने बताया कि साल के 12 महीनों में 12 संकल्पों के साथ रोटरी क्लब ऑफ मुजफ्फरपुर अंजुमन काम करेगी। जिनमें प्रत्येक माह गरीब बस्ती में स्वास्थ सेवा शिविर लगाया जाएगा। 1 साल में 1000 वृक्षारोपण का लक्ष्य रखा गया है। सरकारी स्कूलों में त्रैमासिक का स्तर पर साल में चार मेधा प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। एक सरकारी विद्यालय को गोद लेकर छात्र छात्राओं को पठन-पाठन सामग्री मुहैया कराई जाएगी। 12 मेधावी छात्र छात्राओं को पढ़ने के लिए साइकिल दिया। जाएगा साल में दो दिव्यांग सेवा शिविर का आयोजन किया जाएगा जिसमें दिव्यांग भाई बहनों को आवश्यक कृत्रिम अंग और उपकरण उपलब्ध कराए जाएंगे। मासिक स्तर पर स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा जिसमें महापुरुषों के स्मारक स्थल पर सफाई की जाएगी गरीब बस्ती में तीन स्थानों पर सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराया जाएगा। पेयजल सुलभ कराने के लिए 12 सार्वजनिक स्थानों पर हैंड पंप लगाया जाएगा। महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए प्रत्येक माह 10 यानी पूरे साल में 120 नारी शक्ति को उनकी रूचि के अनुसार प्रशिक्षण देकर स्वाबलंबी बनाया जाएगा। इस मौके पर भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

Leave a Comment

क्या वोटर कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला सही है?